Sarvodya Vidhyapith College, Meerganj, Jaunpur

खेलकूद :

महाविद्यालय के छात्रो के शरीर-सौष्ठव के एवं खेलकूद में उनकी निपुणता तथा विकास हेतु क्रीड़ा-सम्बन्धी समस्त आन्तरिक एवं बाहय क्रीड़ा सुविधाएं उपलब्ध है | महाविद्यालय के पास अपना क्रीड़ागन है | खेलकूद सम्बन्धी सुविधा प्रदान करने के लिए महाविद्यालय द्वारा क्रीड़ा अधीक्षक नियुक्त है | जिनकी देख-रेख में इनडोर तथा आउटडोर खेलों एवं विविध प्रकार की व्यायाम सुविधाओं की प्राप्ति सम्भव है | क्रीड़ा-सम्बन्धी उपकरण/सामग्री किसी भी खिलाड़ी छात्र को घर के लिए सुलभ न हो सकेगी | महाविद्यालय द्वारा स्तरीय प्रतियोगिताओं का भी प्रतिवर्ष आयोजन किया जाता है | खिलाड़ियों का चयन क्रीड़ा-अधिक्षक की देखरेख में किया जाता है |
समस्त खेलकूद सम्बन्धी गतिविधियों का संचालन खेलकूद समिति करेगी जिसका संयोजक शारीरिक प्रशिक्षक होगा एवं उसका सम्पूर्ण संचालन खेलकूद समिति के अध्यक्ष द्वारा किया जायेगा |
व्यवस्था विश्वविद्यालय के निर्धारित नियमों के अन्तर्गत होगी | केवल वे ही छात्र जो विश्वविद्यालय के खिलाड़ी के रूप में अर्हतायें रखते हैं | कप्तान नामांकित किये जायेंगे |

आवश्यक सावधानियां

1. प्रत्येक छात्रा के लिए आवश्यक है कि वह अपना प्रवेश लेने स्वयं आये |
2. इस बात को स्वयं देखे कि फार्म में सभी कालम भरे हैं ऐसा न होने पर उनका प्रवेश फार्म निरस्त हों सकता है एवं वह प्रवेश से वंचित रह सकता है |
3. सम्बन्धित स्थानों पर इसकी फोटो लगी हों | ऐसा न होने पर आवश्यक रूप से उसे परेशानी उठानी पड सकती है | विद्यालय में पुस्तकालय से पुस्तक लेते समय वह अपने अधिकार से वंचित रह सकता है |
4. अपना शुल्क स्वयं अवध ग्रामीण बैंक बिहार में या महाविद्यालय में जमा करें एवं इसकी रसीद पास रखें, इसकी रसीद का दुरूपयोग दुसरे छात्र कर सकते हैं |
5. परिचय पत्र एवं फीस की रसीद को बहुमूल्य वस्तु की तरह सुरक्षित रखें, इसके खो जाने पर आपको बहुत परेशानी हों सकती है |